घूमना फिरना सभी को बहुत अच्छा लगता है। परंतु किसी-किसी को सफर करने के नाम से ही डर लगने लगता है। सफ़र के दौरान अक्सर ऐसी समस्याएँ हो जाती है जैसे की जी मिचलाना और उल्टी आना। ये बातें हमारे सफ़र के मजे को खराब कर देती इसलिए आपके सफ़र को सुहाना बनाने के लिए है आपके लिए ऐसे उपाय जो हमेशा कारगर साबित होते है।

हालांकि यह कोई कोई बीमारी नहीं है। बच्चों और महिलाओं में यह अधिक देखने को मिलता है। खाने पीने के सामान की या पेट्रोल डीज़ल की तेज गंध से भी मोशन सिकनेस का प्रभाव शुरू हो सकता है।

-जब आप कहीं की भी यात्रा करें तो एक बात हमेशा याद रखें की आपकी बैठने की सीट सबसे पहले वाली हो यानी की सामने की सीट। इस से आपको कभी उल्टी नहीं आयेगी।

-सीट वाली खिड़की इतनी खुली जरूर रखें जिससे की हवा अच्छे से आप तक पहुँच सकें। यात्रा में घबराये नहीं।

-जब भी आप यात्रा करें तो खाने का विशेष ध्यान रखना चाहिए। यात्रा पर जाने से पहले हल्का भोजन करें और खाली पेट कभी भी यात्रा ना करें।

-सफर के दौरान जब भी उल्टी आने का मन करें तो अदरक का एक टूकड़ा अपने मुंह में डाल लें। ऐसा करने से कुछ ही देर में घबराहट की समस्या दूर हो जाएगी। अदरक में एंटीएमेटिक के गुण होते हैं, एंटीएमेटिक एक ऐसा प्रदार्थ है जो उलटी और चक्कर आने से बचाता है।

-खाने के साथ अपने पास सौंफ जरूर रखें और आपको जब भी लगे की उल्टी हो सकती है तो आप सौंफ का इस्तेमाल करें। सौंफ को चबाते चबाते हवा का आनंद ले।

-2 लौंग को भूनकर इसे पीस लें और किसी डिब्बी में भरकर रख लें। जब भी सफर में जाएं या उल्टी जैसा मन हो तो इसे सिर्फ एक चुटकी मात्रा में चीनी या काले नमक के साथ लें और चूसें।

-निम्बू में सिट्रिक एसिड होता है जो गैस, उल्टी से आराम पहुचाता है, निम्बू पानी और कोल्ड ड्रिंक पीने से मोशन सिकनेस नहीं होता।

-खाना खाने के बाद कुछ पुदीने की पत्तियों को अपने पास रख लीजिए और थोडी-थोडी देर में उन्हें चबाते रहें। इससे भी आपको उल्टियां नहीं होंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here