आज हम आपके लिए लाएं हैं एक ऐसी चीज जिसके बारें में जानकर आप सब चौंक जायेंगे, नहीं आपको यकीन …….अब Pampers का नाम भी वियरेबल स्मार्ट डिवाइस की लिस्ट में जुड़ गया है. पैंपर्स ने एक कनेक्टेड केयर सिस्टम पेश किया है जिसका नाम Lumi है. इसमें सेंसर्स लगे हैं, जो बच्चों की गतिविधियों पर नजर रखेंगे. डायपर के गीला होने पर ये सेंसर मोबाइल पर नोटिफिकेशन भेजेंगे. एप के जरिए यह भी जानकारी मिल सकेगी कि बच्चा कब सोया है और कितने बार उठा है. एप में भी बच्चों को दूध पिलाने का चार्ट भी बनाया जा सकेगा. एप में इस स्मार्ट डायपर को इस्तेमाल करने का तरीका भी बताया गया है, हालांकि कंपनी ने इसकी कीमत के बारे में अभी कोई जानकारी उपलब्ध नही कराई है.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि कंपनी ने इंटरनेट कनेक्टेड बेसिनेट्स, स्मार्ट नाइट लाइट्स और पेसिफियर्स बोतल भी पेश किया है जो बच्चों की फीडिंग को ट्रैक कर सकता है. शोधकर्ताओं की मानें तो 2024 तक बेबी मॉनिटर का बाजार 2.5 बिलियन डॉलर तक पहुंचने वाला है. कंपनी ने एक एप भी पेश किया है जो माता-पिता की आवाज निकालता है। ऐसे में बच्चों को लगता है कि अपनी मां के पास ही है.वहीं सिक्योरिटी और प्राइवेसी के सवाल पर पैंपर्स के एक प्रवक्ता ने कहा है कि डाटा पूरी तरह से इंक्रिप्टेड है, हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि कंपनी फिलहाल टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन की सुविधा नहीं दे रही है. हालांकि Lumi दुनिया का पहला टेक डायपर नहीं है.

गूगल ने इससे पहले 2016 में भी मल-मूत्र की जांच करने के लिए एक तैयार एक प्रॉडक्ट के पेटेंट के लिए आवेदन किया था. वहीं पिछले साल कोरिया की कंपनी मोनित ने स्मार्ट डायपर सेंसर के लिए हगीज के साथ साझेदारी की ही है. वहीं से लेकर प्राइवेसी को लेकर भी सवाल उठने लगे हैं. एक्सपर्ट का मानना है कि सेंसर होने के कारण बचपन से ही बच्चों को ट्रैक किया जा सकता है. उनके स्टाइल, वजन और कपड़े की साइज की जानकारी बाजार तक पहुंच सकती है. यूजरों को इस खास टेक्नोलॉजी का बहुत फायदा मिलेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here