पपीते के बीज भले ही आपको कचरा लगते हों लेकिन शायद आपको ये बात मालूम नहीं है कि ये बीज बड़े काम के हैं। आप पपीते के बीजों को मामूली समझ कर फेंक देते हैं

पपीते का सेवन तो आप सब ने किया ही होगा, पपीता एक ऐसा फल है जो हर मौसम में मिल जाता है। इसको खाने से सेहत को कई फायदे होते हैं। लेकिन पपीते के बीज भले ही आपको कचरा लगते हों लेकिन शायद आपको ये बात मालूम नहीं है कि ये बीज बड़े काम के हैं। आप पपीते के बीजों को मामूली समझ कर फेंक देते हैं लेकिन क्या आपको पता है कि ये मामूली काले बीज आपको डेंगू और कैंसर जैसी लाइलाज बीमारियों से बचा सकते हैं। आइये जानते हैं पपीते के बीज के फायदे।

-जानकारी के अनुसार कराची में हुए एक शौध के अनुसार आपको बता दें की पपीते के बीज गुर्दे संबंधी रोगों में काफी हद तक कारगर साबित हुए हैं। इन बीजों के इस्तेमाल से ई-कोली, स्टैफ, तथा सेलमोनेल्ला जैसे खतरनाक विषाणुओं से लड़ने का गुण पाया जाता है। जो टाइफाइड और डेंगू जैसी बीमारियों से निजात दिलाने में सहयता करते हैं। इसके अलावा पपीते के बीजों में कुछ खास क़िस्म के कारक पाए जाते हैं जो घातक बीमारी कैंसर की कोशिकाओं को बढ़ने से रोकते है।

-पीते के 4 से 5 बीजों को पीस कर भोजन या जूस के साथ सेवन करने पर यकृत में मौजूद विषैले तत्व दूर हो जाते हैं और यकृत की कार्य क्षमता बढ़ जाती है।

-बीजों को पीसकर उसमें शहद मिलाकर एक पेस्ट तैयार करें। रोजाना सुबह खाली पेट एक चम्मच इस मिश्रण का सेवन करने से काफी फायदा होता है। इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट होते हैं जो पेट और शरीर के दूसरे अंगों में मौजूद जहरीले पदार्थों को बाहर निकालते हैं जिससे पेट साफ होता है।

-पपीते के बीज महिलाओं तथा पुरुष दोनों के लिए प्राकृतिक गर्भ निरोधक का काम करते हैं। इन बीजों की खास बात यह है कि गर्भ निरोधक के तौर पर खाने से दोनों में से किसी की भी काम इच्छा पर इनका कोई भी दुष्प्रभाव नहीं पड़ता। किन्तु जो महिलाएं गर्भ धारण करने की इच्छुक होती हैं उनको उस समय पपीते का सेवन बंद कर देना चाहिए।

-पपीते के बीज में मौजूद कुछ ऐसे तत्व कैंसर जैसी घातक बीमारी से आपको बचाते हैं। कैंसर जैसे खतरनाक रोगों से बचने के लिए पपीते के सूखे बीजों को पीसकर इनका सेवन करना चाहिए।

-इन सब के अलावा पपीता पेट से संबन्धित रोगों जैसे कब्ज व गैस की वजह से होने वाली समस्याओं से भी दूर रखता है। छोटे बच्चों में इसका प्रभाव बड़ी तेज़ी से देखने को मिलता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here