दुनिया का सबसे खतरनाक जानवर है यह …..अफ्रीका के जंगलों में पाए जाने वाला जानवर जेबरा जो कि अपने शरीर पर बनी काली-सफ़ेद धारियों की वजह से जाना जाता हैं. ये बाकि जानवरों से बेहद ही अलग है और ये दूसरे देशों में पाए जाते हैं. बरा को घोड़ो और गधों के समान ही अनुवांशिक गुणों से युक्त माना जाता हैं. लेकिन इनके स्वभाव में हमला करने की वजह से इन्हें पालतू नहीं बनाया जा सकता है. ये काफी अलग होते हैं और उनके ही बारे में कुछ अलग तथ्य हम आपको बताने जा रहे हैं.

– ज़ेबरा का शरीर असल में काला होता है जिस पर पड़ी पट्टियां सफेद होती हैं.

– वर्तमान समय में ज़ेबरा की तीन जातियां जीवत हैं – मैदानी ज़ेबरा, शाही ज़ेबरा और पहाड़ी ज़ेबरा. अंग्रेज़ी में इन्हें Plains zebra, Grévy’s Zebra और Mountain Zebra कहा जाता है.

– ज़ीब्रा और गधे के मेल से पैदा हुई संतान को Zonkey कहा जाता है. (Zebra + Donkey = Zonkey.)

– अमेरिका के चिड़ियाघरों के रखवालों को अगर कोई सबसे ज्यादा घायल करने वाला जानवर है, तो वो है – ज़ेबरा.

– अगर आप किसी ज़ेबरा पर हमला कर देते है, तो इसका परिवार तुरंत इसकी सहायता के लिए आ जाएगा और घायल ज़ेबरा को चारों ओर से घेरकर आपको भगाने की कोशिश करेगा.

– Zebra शब्द पुर्तगाली भाषा से आया है, जिसका अर्थ होता है – ‘जंगली गधा‘.

– शुतुरमुर्ग की ज़ेबरा के साथ बहुत अच्छी बनती है. दोनों शिकारियों से एक दूसरे की रक्षा के लिए अक्सर साथ रहते हैं. शुतुरमुर्ग के पास देखने की बढ़िया शक्ति है जबकि ज़ीब्रा बेहतर सुन सकता है और इसकी नाक किसी खतरे की गंध को बेहतर सूंघ सकती है.

– किन्हीं दो ज़ेबरा में उनके शरीर की सफेद धारियों द्वारा फर्क किया जा सकता है, क्योंकि इनके शरीर पर पड़ी सफेद धारियां भी इंसानों के ऊंगलियों के निशानों की तरह अलग-अलग होती हैं.

– अमेरिका के टेक्सास राज्य के बड़े किसान ज़ेबरा और अन्य अफ्रीकी जानवरों से इतने परेशान हैं कि वो हर साल इनका शिकार करने के लिए हज़ारों डॉलर का खर्चा करते हैं.

– आपको पता होगा कि रोड क्रॉस करने के लिए शहर की सड़कों पर काली और सफ़ेद पट्टियां बनी होती हैं, जिन्हें ज़ेबरा क्रॉसिंग कहते हैं. इनका नाम ज़ेबरा क्रॉसिंग इसलिए रखा गया है क्योंकि यह ज़ेबरा के शरीर पर बड़ी काली और सफ़ेद पट्टियों की तरह दिखती हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here