नकली आईलैशेज़ आपकी आँखों को पहुंचा सकती है नुकसान..लंबी पलकें या आईलैशेज़ बहुत आकर्षक दिखती हैं. इससे आपकी सुंदरता और भी बढ़ती है. लेकिन आपको बता दें, लम्बी पलकों के नुकसान भी होते हैं.  ऐसे ही लम्बी पलकें पाने के लिए, एक आपकी ब्यूटीशियन आपकी आंखों पर सिंथेटिक पलकें लगाने के लिए ट्वीज़र का उपयोग करती है. हालांकि, आपको नकली पलकें बार-बार या बहुत अधिक समय के लिए नहीं लगानी चाहिए क्योंकि वे आपकी आंखों पर कई हानिकारक प्रभाव डाल सकती हैं. आज हम इसी के बारे में बताने जा रहे हैं.

आंखों में संक्रमण का खतरा: नकली आईलैशेज़ से कॉर्निया और पलकों के संक्रमण जैसी समस्याएं हो सकती हैं, जिसके कारण आपकी आंखों में तनाव पैदा हो सकता है.

डर्माटाइटिस (dermatitis) हो सकता है: आपकी ब्यूटीशियन जिस प्रकार के ग्लू का इस्तेमाल करती है उससे आपको एलर्जिक रिएक्शन हो सकता है और त्वचा की सूजन या डर्मटाइटिस (dermatitis) भी हो सकता है. दरअसल इस केमिकल की वजह से आपको एलर्जिक रिएक्शन हो सकते हैं और चुभन या स्टिंगिंग (stinging), जलन और सूजन हो सकती है या दाने भी ऊभर सकते हैं.

पलकों के बाल झड़ सकते हैं: संक्रमण और एलर्जी के अलावा, आपकी आंखों को अस्थायी या स्थायी नुकसान भी हो सकता है. भारी-भरकम एक्सटेंशन की वजह से आपकी पलकों पर तनाव हो सकता है और यह टूट सकते हैं, या आपके फॉलिकल (follicle) को नुकसान पहुंचा सकता है. तो उन नकली पलकों का इस्तेमाल करने से पहले एक बार विचार ज़रूर करें, क्योंकि आपकी पलकों के गिरने के बाद उन्हें दोबारा उगने में समय लग सकता है.

ध्यान में रखें ये बात
बेहतर यही है कि आप उन नकली पलकों के उपयोग से बचें, लेकिन अगर आप उनका इस्तेमाल करना ही है, तो खास ध्यान भी रखें. अपनी नैचुरल पलकों के बालों को बढ़ाने या घना करने के लिए, आप उन पर ऑलिव ऑयल नियमित रूप से लगा सकती हैं. इसी तरह कैस्टर ऑयल भी आपके लैशेज़ के लिए बहुत फायदेमंद साबित होता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here