बच्‍चे की साफ-सफाई का ध्‍यान रखना मां की सबसे बड़ी जिम्‍मेदारी होती है। हम में से कई लोग शिशु को नहलाने को लेकर बहुत सजग रहते हैं और शिशु की कोमल त्‍वचा का ध्‍यान रखने के लिए कई उत्‍पादों का इस्‍तेमाल करते हैं। कई माएं शिशु को नहलाते समय कुछ ऐसी गलतियां कर देती हैं जो बच्‍चे की त्‍वचा को नुकसान पहुंचा सकती है। आइए जानते हैं इन गलतियों के बारे में।बच्‍चे की साफ-सफाई का ध्‍यान रखना अच्‍छी बात है लेकिन अगर आप उसे सामान्‍य से ज्‍यादा बार नहलाती हैं तो इससे उसकी मुलायम और नरम त्‍वचा को नुकसान पहुंच सकता है।

एक दिन में एक बार गुनगुने पानी से नहलाना ठीक रहता है। रात के समय गीले कपड़े से शिशु के शरीर की सफाई कर उसे साफ कपड़े पहनाएं।मार्केट में ऐसे कई प्रोडक्‍ट उपलब्‍ध हैं जो अलग-अलग फायदा देने का दावा करते हैं। आपको इन सबका इस्‍तेमाल शिशु की त्‍वचा पर नहीं करना चा‍हिए। शिशु को साफ करें और मॉइश्‍चराइजर लगाएं। बहुत ज्‍यादा प्रोडक्‍ट के इस्‍तेमाल से शिशु की मुलायम त्‍वचा को नुकसान पहुंच सकता है।

जिस पानी से शिशु को नहलाना है उसका तापमान बिल्कुल ठीक होना चाहिए। पानी ना ज्‍यादा गर्म हो और ना ही ज्‍यादा ठंडा। ठंडे पानी से शिशु को ठंड लग सकती है और गर्म पानी से शिशु की त्‍वचा जल भी सकती है। शिशु को अच्‍छी तरह से साफ करना जरूरी होता है। शिशु के यौन अंगों की सफाई का भी पूरा ध्‍यान रखना होता है।

शिशु के पेशाब या मल त्‍याग करने के बाद निजी अंगों को अच्‍छी तरह से साफ करें। ठीक तरह से साफ ना करने पर डायपर रैशेज और संक्रमण हो सकता है। नहाने के बाद शिशु के शरीर को अच्‍छी तरह से सुखाएं। गीले बदन में शिशु को ठंड भी लग सकती है और वो बीमार पड़ सकता है। इसमें फंगल इंफेक्‍शन का खतरा भी बढ़ जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here