सहारनपुर। कानून व्यवस्था में सुधार के भले ही कितने दावे किए जाएं, लेकिन बदमाश लगातार पुलिस को चुनौती दे रहे हैं। हाल यह है कि पिछली घटनाओं का पुलिस खुलासा भी नहीं कर पाती कि बदमाश नई घटना को अंजाम दे देते हैं। शाम ढलते ही बदमाशों ने पुलिस चेक पोस्ट से चंद कदमों की दूरी पर स्थित अंग्रेजी शराब की दुकान पर धावा बोलते हुए 80 हजार और इसी के बगल में स्थित कैंटीन मालिक से छह हजार और कैंटीन में शराब का सेवन कर रहे लोगों से 15 हजार रुपये की नकदी लूट ली और हथियार लहराते हुए फरार हो गए। यह शराब की दुकान भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष की दुकान है।
वरिष्ठ भाजपा नेता एवं पूर्व जिला अध्यक्ष मेलाराम पवार की नागल में शराब की दुकान है, देर शाम करीब सेल्समैन रामपुर मनिहारान निवासी हरदयाल व अनिल कुमार दुकान पर बैठे थे, तभी वहां 6 बदमाश हथियारों से लैस होकर आए तथा दोनों सेल्समैनो को बाहर से ही हथियार दिखाकर गेट खुलवा लिया और दुकान में घुसकर गल्ले में रखी करीब 80 हजार की नगदी तथा दोनों सैल्समैनों की जेब में मौजूद करीब 3 हजार रूपए लूट लिए। बदमाशों ने वहां रखी आठ शराब की बोतलें भी साथ लाए अपने बैग में भर ली और बराबर की दुकान में स्थित कैंटीन स्वामी साधारणसिर निवासी सोनू के गल्ले में रखे 6 हजार रुपए तथा पान मसाला पैकेट भी लूट लिए। यही नहीं बदमाशों ने वहां मौजूद ग्राहकों को भी नहीं बख्शा।

कैंटीन में शराब का सेवन कर रहे 8 ग्राहकों को तमंचे दिखाकर बंधक बना लिया तथा सभी की जेबों में मौजूद करीब 15 हजार रुपयों की नगदी व मोबाइल लूट लिए और जंगल के रास्ते फरार हो गए। लूट का शिकार हुए लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने आसपास खेतों में कांबिंग की, मगर बदमाशों का कहीं कोई सुराग नहीं लग सका। कांबिंग के दौरान पुलिस को ईंख के खेतों से सभी के मोबाइल बरामद हो गए।
बताया जाता है कि जिस वक्त लूट की घटना हुई, उस समय पुलिस कर्मी पॉपुलर की लकड़ी और अवैध खनन से भरे वाहनों से अवैध वसूली कर रहे थे। सूचना दिए जाने के काफी देर बाद ही पुलिस मौके पर पहुंच सकी, लेकिन तब तक बदमाश फरार हो चुके थे। इस बाबत एसपी सिटी प्रबल प्रताप सिंह का कहना है कि जांच की जा रही है और बदमाशों की तलाश की जा रही है। जल्द ही बदमाश पुलिस की पकड़ में होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here