आइए जानते है बालों के लिए सर्वश्रेष्ठ शैंपू चुनने के तरीके –

आपके बाल किस प्रकार के हैं? आपके बाल की जड़ की मजबूती कितनी है? शैंपू में किस प्रकार के केमिकल का उपयोग किया गया है? और साथ ही साथ शैंपू का पी एच लेवल क्या है? जैसे कई सवाल आपको शैंपू लेते समय अपने ध्यान में रखने चाहिए|

अपने बाल के प्रकार के आधार पर शैंपू का चयन करना –

क्या आपके बाल सीधे हैं या फिर करली है क्या आपने अपने बालों में कलर कराया हुआ है इस तरह के सवालों का ध्यान आपको शैंपू खरीदते समय रखना चाहिए क्योंकि प्रत्येक शैंपू की अपनी एक अलग विशेषता होती है इसलिए आपको अपने बालों की देखभाल के लिए उनकी जरूरत के हिसाब से शैंपू का चयन करना चाहिए शैंपू का चयन करने का सबसे आसान तरीका है शैंपू की बोतल के पीछे लिखे हुए निर्देशों को अच्छे से पढ़ना जो कि आपके बालों के प्रकार को सही तरीके से बतलाते है जैसे कि ड्राई हेयर ऑयली हेयर फाइन एंड फिजी हेयर आदि|

ड्राई हेयर के लिए शैंपू का चयन –
अपने बालों को moscraijr से युक्त शैंपू से धोना चाहिए Moscraijr आपके बालों को लंबे समय तक नमी बनाए रखता है यह आपके सिर के नेचुरल ऑयल को बाहर निकालने का काम करता है इसके लिए आप शैंपू करने से पहले कोकोनट ऑयल का उपयोग कर सकते हैं नारियल के तेल का उपयोग बालों के लिए सर्वश्रेष्ठ उपाय में से एक है और स्पेशली ड्राई हेयर में नारियल के तेल का उपयोग बहुत ही लाभदायक होता|

ऑयली हेयर के लिए शैंपू का चयन –
इस प्रकार के बालों के लिए ऐसे शैंपू का चयन करें जो कि ऑयली हेयर के लिए ही बनाया गया हो इस तरह के शैंपू मैं माइक्रोस्कोपिक और कंडीशनर(Macroscopic and conditioner ) का उपयोग नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि ऑयली हेयर में डैंड्रफ की समस्या अधिक होती है इसलिए डैंड्रफ से छुटकारा पाने के लिए एंटी डैंड्रफ शैंपू का सिलेक्शन करना चाहिए जिसमें मुख्य रुप से कीटोकोनाजोल (ketoconazole) केमिकल पाया जाता है इसके साथ-साथ इसमें जिंक पैराथियान (zink parathion) एंड सेलेनियम केमिकल (selenium chemical) पाए जाते हैं|

डाई और कलर किए हुए बालों के लिए शैंपू का चयन – shampoo for Dye and Colured hair in hindi
इस प्रकार के बालों के लिए शैंपू का चयन विशेष रूप से आवश्यक होता है क्योंकि शैंपू का चयन करते समय आपको ध्यान रखना है कि वह आपके बालों का कलर ना निकाले| पहले के समय में शैंपू एक प्रकार का साबुन हुआ करता था जो सीधे ही बालों को धोने के लिए इस्तेमाल किया जाता था लेकिन जैसे-जैसे शैंपू और कंडीशनर का उपयोग शुरू हुआ शैंपू का उपयोग बालों में शाइनिंग और बालों को बढ़ाने के लिए किया जाने लगा जिससे बालों में अधिक शाइनिंग आने लगी|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here