अगर महिलाएं घर से लेकर बाहर के कार्यों की सारी जि़म्मेदारी निभा रही हैं तो उनके लिये फिटनेस की अहमियत और भी बढ़ जाती है। बस, ज़रूरत है अपने लिए दिन में 5 मिनट का समय निकालने की।
सैर
रोज सुबह 15 से 20 मिनट की सैर से पूरे शरीर के जोड़ों को सुचारु रूप से कार्य करने की क्षमता मिलती है। इससे हृदय रोग सहित अन्य बीमारियों से भी बचा जा सकता है। इसलिए सैर को अपनी दिनचर्या में शामिल करें।

पेल्विक ब्रिजिंग

इस व्यायाम से कमर एवं कूल्हे की मांसपेशियों में ताकत आती है। फर्श पर सीधे लेटकर, घुटने मोड़कर, हाथों को बाहर की तरफ निकाले। इसके बाद कमर को सीधे रखते हुए, ब्रिज के आकार में उठाएं। ऐसी स्थिति में 3 से 5 सेकेंड तक रहें। इसके बाद सामान्य स्थिति में आ जाएं। यह प्रक्रिया तीन से पांच बार करें।
सिट टू स्क्वैट
सीधे खड़े होकर, हाथों को शरीर से बाहर, आगे की ओर निकालकर, कुर्सी पर बैठने की मुद्रा में आ जाएं। इस स्थिति में तीन से पांच सेकेंड तक रुकें। इसके बाद सामान्य अवस्था में आ जाएं। यह क्रिया तीन से पांच बार करें। इस व्यायाम से मांसपेशियां मजबूत होती हैं ।

क्वाड्रिसेप्स डायनैमिक

यह व्यायाम घुटनों की मांसपेशियों को मजबूत करता है। कुर्सी पर पीठ लगा कर सीधे बैठ जाइए। घुटने से पैर को सीधा करें और इस स्थिति में तीन से पांच सेकेंड रखें। इसके बाद पैर सीधा कर लें। यही क्रिया बारी-बारी दोनों पैरों से तीन से पांच बार करनी चाहिए।
लेग रेज
सीधे लेटकर घुटने को सीधा रखते हुए, पूरी टांग को 30 डिग्री तक सीधा उठाएं। इस स्थिति में 3 से 5 सेकेंड रखें और टांग वापस नीचे ले जाएं। यह प्रक्रिया तीन से पांच बार करें।

हील रेज
पंजों के बल सीधे खड़े हो जाएं। ऐसी स्थिति में तीन से पांच सेकेंड तक रुकें। 3 से 5 बार यही प्रक्रिया दोहराएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here