मुकेश अंबानी से जुडी यही सच्चाई आपको कर देगी हैरान …..देश के सबसे बड़े उद्योगपति और सबसे रईस भारतीय मुकेश अंबानी ने अपना वेतन इस वर्ष भी नहीं बढ़ाया है. पिछले 11 वर्ष से उनकी सैलरी नहीं बढ़ाई गई है. मुकेश अंबानी की वार्षिक आमदनी करोड़ों में है. दरअसल वेतन नहीं बढ़ाने का निर्णय उन्होंने वर्ष 2008 के अक्टूबर में सीईओ की सैलरी को लेकर खड़े हुए विवाद के बाद लिया था.

मुकेश अंबानी ने निश्चय किया था कि वो अपना वेतन सीमित रखेंगे. इस बार भी मुकेश अंबानी ने अपनी तनख्वाह 15 करोड़ रुपए ही रखी है. इस वेतन में भत्ते, कमीशन और सेवानिवृत्ति लाभ सम्मिलित हैं. मुकेश अंबानी ने वर्ष 2008-09 से ही अपना वेतन 15 करोड़ रुपए रखा है. तब से इसमें उन्‍होंने वृद्धि नहीं की है. बता दें कि मुकेश अंबानी रिलायंस इंडस्ट्री के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर हैं.

चौंकाने वाली बात ये है कि जहां मुकेश अंबानी का वेतन 11 वर्ष से नहीं बढ़ा है, वहीं उनके चचेरे भाई निखिल और हेतल मेसवानी का वेतन लगातार बढ़ रहा है. निखिल मेसवानी और हेतल का वेतन वर्ष 2016-17 में 16.58 करोड़ रुपए था, वर्ष 2017-18 में इसे बढ़ाकर 19.99 करोड़ रुपए कर दिया गया और वर्ष 2018-19 में उनका वेतन बढ़कर 20.57 करोड़ रुपए हो चुका है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here