प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के सबसे ज्यादा पॉपुलर रहने वाले प्रधानमंत्रियों में से इन्होंने अपने देश की छवि को हर पायदान पर खरा उतारने की कोशिश की है जहां तक की अमेरिका चीन और ऐसे कई बड़े-बड़े देशों कि राजनेता भी इनसे चकराता हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस महीने की 27 अक्टूबर को नागरिकों के साथ दीपावली पर नागरिकों को संबोधित कर सकते हैं पीएम मोदी ने खुद ट्वीट कर कर इस की जानकारी दी और कहा कि मुझे सुझाव दें यह मोदी ने ट्वीट करके लिखा है मन की बात इस महीने की 27 अक्टूबर को होगी दिवाली के दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस कार्यक्रम को लेते हुए लोगों से सुझाव भी मांगे पीएम मोदी ने कहा है कि लोग अपनी सुझाव अगर देना हैं

तो हमारे इस नंबर पर 1800 11 780 0 पर कॉल करके या नमो एप या माय गवर्नमेंट ओपन फोरम पर लिख दें इससे पहले 29 सितंबर को पीएम मोदी ने अपने रेडियो कार्यक्रम मन की बात के जरिए जनता को संबोधित किया था पीएम मोदी ने इस कार्यक्रम में एक अनोखी गतिविधियों का उल्लेख करते हुए लोगों को जागरूक किया तथा उनको बताया प्लास्टिक मुक्त भारत स्वच्छ भारत स्वच्छ भारत बनाने का तथा कहा कि स्वच्छ भारत स्वस्थ भारत यह मोदी ने इस कार्यक्रम में एक अनोखी गतिविधियां जोगिंग करते हुए जब कचरा खट्टा करना कहलाता है

पीएम मोदी इस विचार से बहुत प्रभावित हुए और उन्होंने सभी देशवासियों से 2 अक्टूबर को तो पैदल चलने कचरा इकट्ठा करने और इस प्रक्रिया में भाग लेने का आन किया पीएम मोदी ने संबंध में खेल मंत्रालय का जो भी उपयुक्त वाले प्लास्टिक यूज कर रहा है उसके प्रति क्लार्क धाराएं और गांधी जयंती पर भारतीयों को उसके खिलाफ आंदोलन में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया तथा नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस देश को स्वस्थ और स्वस्थ बनाने के लिए वह कहीं तक भी जा सकते हैं

प्रधानमंत्री मोदी के द्वारा कही गई बातों को जनता जनार्दन इस प्रकार ले अपने आसपास के इलाके में जो भी प्लास्टिक का कचरा जो भी गंदगी हो उसे खट्टा कर कर इकट्ठे में डाल दे जिसकी वजह से अपना एरिया तो स्वस्थ हो गई स्वच्छता से ही स्वस्थ आएगी एरिया स्वच्छ घर स्वस्थ सरी यही मेरी मेरी मन की बात है

Naukari Mart पर ये खबर पढ़ने के लिए धन्यवाद, अगर आपको ये खबर अच्छी लगी हो तो इसे लाइक करके अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें | ऐसी ही मजेदार खबरें पढ़ने के लिए हमें फॉलो जरुर करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here